जहां दुनियाभर में कोरोना का कहर जारी हैं वहीं वैज्ञानिक दिन -रात कोरोना की वैक्सीन खोजने में लगे हुए हैं। कोरोना से जंग जीतने के लिए देश में आए दिन नई दवाएं और टेस्ट लॉन्च हो रहे हैं। इसी बीच, टाटा ग्रुप ने कोरोना का नया टेस्ट लॉन्च किया है।

टाटा ग्रुप ने लॉन्च की 'Feluda' टेस्ट किट
दरअसल, टाटा ग्रुप ने ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) के साथ मिलकर 'Feluda’ टेस्ट लॉन्च किया है। यह देश का पहला ऐसा टेस्ट है, जिसे CRISPR द्वारा कमर्शियल लॉन्च की स्वीकृति मिली है। Feluda एक ऐसी स्ट्रिप है, जो कुछ मिनटों में ही कोरोना पॉजिटिव-नेगेटिव होने का रिजल्ट देगी।

मिनटों में देगी रिजल्ट
CSIR के मुताबिक, इस टेस्ट में स्वदेशी CRISPR जीन-एडिटिंग टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है, जो कोरोना के अलावा SARS-CoV-2 वायरस का पता लगाने में भी कारगार है। बता दें कि फेलुदा के इस्तेमाल पर ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने भी मंजूरी दे दी है।

किफायती के साथ सस्ती भी
खास बात यह है कि बाकी टेस्ट के मुकाबल फेलुदा सस्ता और जल्दी रिजल्ट देने वाला है। साथ ही इसे इस्तेमाल करना भी बेहद आसान है। Cas9 प्रोटीन को अडैप्ट करने वाला फेलुदा दुनिया का पहला टेस्ट है। यही नहीं, इस टेक्‍नोलॉजी का इस्‍तेमाल भविष्य में दूसरी महामारियों की जांच के लिए भी किया जा सकेगा।

कलर चेंज से लग जाएगा पता
इस स्ट्रिप का यूज करने के लिए किसी मशीन या कोई खास स्किल नहीं चाहिए बल्कि ये अपनी रंग बदलेगी, जिससे आप कोरोना का पता लगा सकते हैं। इससे मिनटों में 100% एक्‍युरेट रिजल्‍ट मिलेगा।