छत्तीसगढ़ में कोरोना:कल से गरियाबंद और कोरिया में भी लॉकडाउन; अब रायपुर समेत 8 जिले रहेंगे बंद, बिलासपुर में पुलिस का मार्च
 

छत्तीसगढ़ में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों ने राज्य के कई जिलों की रफ्तार पर ब्रेक लगा दिया है। रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग सहित 6 जिलों में बंदी के बाद अब गरियाबंद और कोरिया में भी बुधवार से लॉकडाउन लगाया जा रहा है।, 
 

गरियाबंद में 23 से 30 सितंबर तक रहेगा बंद, लेकिन शराब की हो सकेगी होम डिलीवरी
 

कोरिया में कल से 5 दिन का बंद, सब्जी, किराना और दूध सुबह 7 से 10 बजे तक मिलेगा

छत्तीसगढ़ में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों ने राज्य के कई जिलों की रफ्तार पर ब्रेक लगा दिया है। रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग समेत 6 जिलों में बंदी के बाद अब गरियाबंद और कोरिया में भी बुधवार से लॉकडाउन लगाया जा रहा है। इसके साथ ही प्रदेश की 25 फीसदी से ज्यादा आबादी एक बार फिर घरों में कैद हो रही है। इसका एक बड़ा कारण लोगों की लापरवाही भी है।

बिलासपुर में भी सोमवार रात 9 बजे से लॉकडाउन लगाया गया है। यहां भी रायपुर जैसी सख्ती है। इसके बावजूद सीपत में देशी शराब की दुकान खोली गई है।

बिलासपुर में भी सोमवार रात 9 बजे से लॉकडाउन लगाया गया है। यहां भी रायपुर जैसी सख्ती है। इसके बावजूद सीपत में देशी शराब की दुकान खोली गई है।
गरियाबंद : जिले की सीमाएं रात से सील, दूध सुबह दो घंटे और शाम को डेढ़ घंटे मिलेगा

जिले में अब तक 1166 संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें से 10 मरीजों की मौत हो चुकी है, जबकि 487 एक्टिव केस हैं। जिले की मंगलवार रात 9 बजे से सीमाएं सील कर दी जाएंगी। इस बार सख्ती ज्यादा रहेगी और फल-सब्जी, किराना सब दुकानें बंद होंगी। हालांकि दूध सुबह 6 से 8 और शाम को 5 बजे से 6.30 बजे तक मिल सकेगा।

अन्य जिलों में जाने वालों को बनवाना होगा ई-पास

कलेक्टर के आदेश के अनुसार, सिर्फ इमरजेंसी, मेडिकल दुकानों और सरकारी वाहनों को छूट दी गई है। आम लोगों को पेट्रोल भी नहीं मिलेगा। शराब दुकानें भी इस बार बंद रहेंगी। हालांकि लोगों को शराब की होम डिलीवरी की जाएगी। इसके लिए वे ऑनलाइन शराब की बुकिंग करा सकते हैं। अन्य जिलों में जाने वाले लोगों को ई-पास बनवाना होगा।

कोरिया : सभी नगरीय निकायों के साथ पंचायतों में भी लॉकडाउन

जिले में 23 से 27 सितंबर तक 5 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया है। इस दौरान मेडिकल व पेट्रोल पंप खुले रहेंगे। किराना, सब्जी, दूध की दुकानें सुबह 7 से 10 तक खुलेंगी। नगरीय क्षेत्र बैकुंठपुर, ग्राम पंचायत रामपुर, तलवापारा, ओड़गी, भाड़ी, सहित पटना, केल्हारी, पंडोपारा, पोड़ी बचरा, नागपुर, रामगढ़, कटगोड़ी, कोटाडोल व कटकोना को भी कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है।

इन जिलों में भी लॉकडाउन किया गया

रायपुर : जिसे की सभी सीमाएं 28 सितंबर तक सील की गईं। केवल दूध की सप्लाई, मेडिकल दुकानें, पेट शॉप, पेट्रोल पंप निर्धारित समय के लिए खुलेंगी। पेट्रोल पंप आम जनता के लिए पूरी तरह बंद रहेगा। सब्जी बाजार भी नहीं खुलेंगे।
दुर्ग : यहां 19 सितंबर की रात 9 बजे से से 10 दिन का लॉकडाउन शुरू हो गया है। हालांकि, यह भी पहले की तरह रहेगा और लोगों को जरूरी सेवाओं के लिए छूट मिलेगी।
बिलासपुर : यहां भी आज से लॉकडाउन शुरू हो गया है। रायपुर की तरह बिलासपुर में भी सख्ती है। पुलिस ने सुबह मार्च किया। साथ ही लोगों से घरों में रहने की अपील की है।
बालोद, मुंगेली और धमतरी : इन जिलों में भी सोमवार रात 9 बजे से लॉकडाउन किया गया है। यहां पर लोगों को पहले की तरह जरूरी सुविधाओं में तय समय के अनुसार छूट दी जाएगी। बालोद में 30, धमतरी 10 दिन और मुंगेली में 23 सितंबर तक बंद रहेगा।
छत्तीसगढ़ में कोरोना
छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की रफ्तार थोड़ी कम जरूर हुई है, लेकिन अभी भी बहुत है। पिछले 10 दिनों से अब रोजाना औसतन 1000 से ज्यादा केस आ रहे हैं। अभी तक प्रदेश में 88181 संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें से 690 मरीजों की मौत हो चुकी है, जबकि 37927 अभी एक्टिव केस हैं। हालांकि 38580 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। इसके चलते रिकवरी रेट बढ़ा है।