Saturday, 20 July 2019, 10:02 PM

तीज एवं त्यौहार

जानिए चैत्र अमावस्या के मुहूर्त, महत्व एवं उपाय

Updated on 5 April, 2019, 6:00
धार्मिक शास्त्रों के अनुसार चैत्र महीने में आने वाली कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि को 'चैत्र अमावस्या' के नाम से जाना जाता है। इस दिन व्रत रखने से पितरों को मोक्ष की प्राप्ति होती है। धार्मिक एवं ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार हर माह के कृष्ण पक्ष में आने वाली अमावस्या तिथि... आगे पढ़े

नव-संवत्सर के विषय में यह जानकारी नहीं होगी आपको...

Updated on 4 April, 2019, 6:45
जैसे ईसा (अंग्रेजी), चीन या अरब का कैलेंडर है उसी तरह राजा विक्रमादित्य के काल में भारतीय वैज्ञानिकों ने इन सबसे पहले ही भारतीय कैलेंडर विकसित किया था। इस कैलेंडर की शुरुआत हिंदू पंचांग के अनुसार चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से मानी जाती है। मार्च माह से ही... आगे पढ़े

अमावस्या और पूर्णिमा के यह बड़े राज, नहीं जानते हैं आप

Updated on 4 April, 2019, 6:00
हिन्दू धर्म में पूर्णिमा, अमावस्या और ग्रहण के रहस्य को उजागर किया गया है। इसके अलावा वर्ष में ऐसे कई महत्वपूर्ण दिन और रात हैं जिनका धरती और मानव मन पर गहरा प्रभाव पड़ता है। उनमें से ही माह में पड़ने वाले 2 दिन सबसे महत्वपूर्ण हैं- पूर्णिमा और अमावस्या।... आगे पढ़े

गुड़ी पड़वा के दिन 136 देवता देते हैं शुभ आशीष, जानिए उनके मंत्र

Updated on 3 April, 2019, 6:45
गुड़ी पड़वा के दिन 136 देवों को प्रसन्न किया जा सकता है। शास्त्रों में उनके मंत्र दिए गए हैं। पढ़ें विस्तार से... इस दिन प्रातः नित्यकर्मों से निवृत्त होकर स्नानादि कर स्वच्छ या नए (सामर्थ्यानुसार) वस्त्राभूषण धारण करें। इसके बाद हाथ में गंध, पुष्प, अक्षत तथा जल लेकर संकल्प करें। स्वच्छ एवं गंगा... आगे पढ़े

चैत्र नवरात्र कब, किस दिन होगी किस देवी की पूजा, कलश स्थापना का सबसे श्रेष्ठ मुहूर्त

Updated on 3 April, 2019, 6:15
चैत्र नवरात्र दिनांक 6 अप्रैल 2019, शनिवार को प्रारंभ हो रहा है। इसी दिन प्रतिपदा और द्वितीया है अत: नवरात्रि के पहले दिन घटस्थापन कर मां शैलपुत्री और मां ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाएगी। इन्‍हीं 9 दिन में माता दुर्गा की पूजा अर्चना करके उन्‍हें प्रसन्न किया जाता है। माता... आगे पढ़े

गणगौर के सबसे खास 10 गीत, जिनके बगैर अधूरा है गणगौर पर्व

Updated on 3 April, 2019, 6:00
* इन गीतों के बगैर अधूरा है गणगौर पर्व, पढ़ें माता गौरी को प्रसन्न करने वाले 10 लोकगीत गणगौर पर्व के दिनों में जहां भगवान शिव-पार्वती और गणगौर की आराधना की जाती हैं, वहीं गणगौर के गीत गाकर माता गौरी की प्रसन्न किया जाता है, लेकिन सबसे ज्यादा समस्या पूजन आदि... आगे पढ़े

भौम प्रदोष व्रत से शीघ्र चुकता होगा ऋण, जानें कैसे करें पूजन, पढ़ें मंगल के 21 चमत्कारिक नाम

Updated on 2 April, 2019, 6:45
मंगल/ भौम प्रदोष व्रत : जब मंगलवार के दिन प्रदोष तिथि का योग बनता है, तब यह व्रत रखा जाता है। मंगल ग्रह का ही एक अन्य नाम भौम है। यह व्रत हर तरह के कर्ज से छुटकारा दिलाता है। हमें अपने जीवन में कई बार अपनी जरूरतों को पूरा... आगे पढ़े

1 अप्रैल से राज पंचक, इन दिनों कौन-से कार्य करें और क्या न करें, शुभ फल चाहिए तो करें यह उपाय

Updated on 2 April, 2019, 6:30
1 अप्रैल 2019, सोमवार से पंचक लग गया है। सुबह 8.42 मिनट से शुरू हुआ यह पंचक 6 अप्रैल 2019, शनिवार प्रात: 6.51 तक जारी रहेगा। शास्त्रों के अनुसार सोमवार को शुरू होने वाला पंचक 'राज पंचक' कहलाता है और यह पंचक काल शुभ माना जाता है। इसके प्रभाव से पंचक... आगे पढ़े

मंगल प्रदोष व्रत आज, पढ़ें पौराणिक एवं प्रामाणिक व्रत कथा

Updated on 2 April, 2019, 6:00
मंगलवार के दिन आने वाले प्रदोष व्रत को मंगल प्रदोष या भौम प्रदोष कहते हैं। इसकी कथा इस प्रकार है- एक नगर में एक वृद्धा रहती थी। उसका एक ही पुत्र था। वृद्धा की हनुमानजी पर गहरी आस्था थी। वह प्रत्येक मंगलवार को नियमपूर्वक व्रत रखकर हनुमानजी की आराधना करती थी। एक... आगे पढ़े

इस व्रत से मिलती है पापों से मुक्ति, मिलता है मोक्ष, पढ़ें पापमोचनी एकादशी की पूजा विधि एवं कथा

Updated on 31 March, 2019, 6:30
धर्मराज युधिष्‍ठिर बोले- हे जनार्दन! चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी का क्या नाम है तथा उसकी विधि क्या है? कृपा करके आप मुझे बताइए। श्री भगवान बोले, हे राजन्- चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी का नाम पापमोचनी एकादशी है। इसके व्रत के प्रभाव से मनुष्‍य के सभी... आगे पढ़े

कब है गुड़ी पड़वा, कौन हैं इस वर्ष के राजा, क्या है इस संवत्सर का नाम, सब जानिए यहां

Updated on 29 March, 2019, 6:45
पंचांगीय गणना के अनुसार चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से हिंदू नव वर्ष का प्रारंभ होता है। इस बार ये 6 अप्रैल 2019, शनिवार से होगा। इस संवत्सर का नाम परिधावी है। इस दिन रेवती नक्षत्र है। जिस दिन से संवत्सर की शुरुआत होती है, वह दिन या दिनाधिपति उस वर्ष का... आगे पढ़े

31 मार्च को है पापमोचनी एकादशी, अपने नाम के अनुसार ही करती है समस्त पापों का नाश

Updated on 29 March, 2019, 6:00
* सभी तरह के पापों से मुक्ति दिलाने वाली पापमोचनी एकादशी रविवार को, जानिए महत्व हिन्दू कैलेंडर के अनुसार चैत्र मास में आने वाली एकादशी इस वर्ष 31 मार्च, 2019, रविवार को आ रही है। यह एकादशी सभी तरह के पापों से मुक्ति दिलाती है। चैत्र कृष्ण एकादशी का नाम पापमोचिनी... आगे पढ़े

6 अप्रैल को है गुड़ी पड़वा : जानिए पर्व में छुपा संदेश

Updated on 28 March, 2019, 6:45
गुड़ी पड़वा हिन्दू नववर्ष के रूप में भारत में मनाया जाता है। इस वर्ष यह 6 अप्रैल 2019 को आ रहा है। इस दिन सूर्य, नीम पत्तियां,अर्घ्य, पूरनपोली, श्रीखंड और ध्वजा पूजन का विशेष महत्व होता है। माना जाता है कि चैत्र माह से हिन्दूओं का नववर्ष आरंभ होता है।... आगे पढ़े

गुड़ी पड़वा विशेष : गुड़ी बनाकर समझें अपनी देह और जीवन को

Updated on 28 March, 2019, 6:30
'गुड़ी पड़वा', चैत्र शुक्ल प्रतिपदा यानी साढ़े तीन शुभ मुहूर्तों में से एक। सोने की लंका जीत राम के अयोध्या लौटने का दिन यानी चैत्र शुक्ल प्रतिपदा। जब अयोध्यावासियों ने गुड़ी तोरण लगाकर अपनी खुशी का इजहार किया था। बस तभी से चैत्र प्रतिपदा पर गुड़ी की परंपरा का श्रीगणेश... आगे पढ़े

सुहागिनों का पवित्र पर्व गणगौर शुरू, 8 अप्रैल को मनेगी गणगौर तीज, होगा शिव-पार्वती का पूजन

Updated on 28 March, 2019, 6:15
* गणगौर तीज पर्व, 16 श्रृंगार से सजेंगी सुहागिनें 22 मार्च 2019 यानी होली के दूसरे दिन चैत्र कृष्ण प्रतिपदा से 16 दिवसीय गणगौर पूजा का पर्व शुरू हो गया। गणगौर मुख्यत: राजस्थान में मनाया जाने वाला पर्व है। यह पर्व विशेष रूप से सुहागिन महिलाएं मनाती हैं। सुहागिनें अपनी पति... आगे पढ़े

शांति और सेहत के लिए अवश्य कीजिए मां शीतला का पूजन, महत्व पढ़कर हैरान रह जाएंगे

Updated on 27 March, 2019, 6:45
शीतला सप्तमी पर ऋतु का अंतिम बासी भोजन किया जाता है और सीख ली जाती है कि अब गर्मी में बासी भोजन से परहेज करना है। इस वर्ष शीतला सप्तमी 27 मार्च को है जबकि शीतला अष्टमी 28 मार्च को है। जीवन में शांति और समृद्धि के लिए भी वर और... आगे पढ़े

शीतला पर्व पर सुनाई जाती है राजकुमारी शुभकारी की यह कथा

Updated on 27 March, 2019, 6:30
इंद्र द्युम्न नामक एक राजा था। वह एक उदार और गुणी राजा था। उसकी एक पत्नी थी जिसका नाम प्रमिला और पुत्री का नाम शुभकारी था। बेटी की शादी राजकुमार गुणवान से हुई थी। इंद्र द्युम्न के राज्य में, हर कोई हर साल उत्सुकता के साथ शीतला सप्तमी का व्रत रखता... आगे पढ़े

श्री शीतला चालीसा : शीतला माता पर्व पर एक बार भी पढ़ लिया तो रोग, शोक, दुख, दरिद्रता का नहीं रहेगा ना

Updated on 27 March, 2019, 6:15
मां शीतला एक प्रसिद्ध हिन्दू देवी हैं। इस देवी की महिमा प्राचीनकाल से ही बहुत अधिक है। ये देवी हाथों में कलश, सूप, मार्जन यानी झाड़ू तथा नीम के पत्ते धारण करती हैं। यह चेचक आदि कई रोगों की देवी बताई गई है। यहां पाठकों के लिए प्रस्तुत हैं शीतला... आगे पढ़े

शीतलाष्टक : शीतला पर्व पर इस पवित्र पाठ से मिलेगा आरोग्य का शुभ वरदान

Updated on 27 March, 2019, 6:00
।।श्री शीतलाष्टकं ।। ।।श्री शीतलायै नमः।। विनियोगः- ॐ अस्य श्रीशीतलास्तोत्रस्य महादेव ऋषिः, अनुष्टुप् छन्दः, श्रीशीतला देवता, लक्ष्मी (श्री) बीजम्, भवानी शक्तिः, सर्व-विस्फोटक-निवृत्यर्थे जपे विनियोगः ।। ऋष्यादि-न्यासः- श्रीमहादेव ऋषये नमः शिरसि, अनुष्टुप् छन्दसे नमः मुखे, श्रीशीतला देवतायै नमः हृदि, लक्ष्मी (श्री) बीजाय नमः गुह्ये, भवानी शक्तये नमः पादयो, सर्व-विस्फोटक-निवृत्यर्थे जपे विनियोगाय नमः सर्वांगे ।। ध्यानः- ध्यायामि... आगे पढ़े

28 मार्च को है शीतला अष्टमी का पर्व, जानिए पूजा का मुहूर्त

Updated on 26 March, 2019, 6:45
कुछ लोग सप्तमी को शीतला माता का पर्व मनाते हैं वे इसे 27 मार्च को मनाएंगे और जो अष्टमी को मनाते हैं वे इसे 28 मार्च को मनाएंगे।  शीतला माता पूजन के लिए महिलाएं प्रातःकाल सूर्योदय से पूर्व जागकर ठंडे पानी से नहाती हैं। और उसके बाद पूजा की सभी सामग्री... आगे पढ़े

शीतला सप्तमी-अष्टमी : कैसे की जाती है बसौड़ा की पूजा?

Updated on 26 March, 2019, 6:30
इस व्रत में मीठे चावल, हल्दी, चने की दाल और जल लेकर महिलाएं मंदिर जाती हैं। इस पूजा को बसौड़ा या फिर शीतला सप्तमी या अष्टमी कहा जाता है। इस पूजा में सबसे खास होते हैं बासी मीठे चावल, जिन्हें गुड़ या गन्ने के रस से बनाया जाता है। यही मीठे... आगे पढ़े

आरोग्य का आशीष देती हैं शीतला माता, जानिए पौराणिक कथा और इतिहास

Updated on 26 March, 2019, 6:15
शीतला माता का पर्व कभी माघ मास में शुक्ल पक्ष की षष्ठी को, कही वैशाख मास में कृष्ण पक्ष की अष्टमी को तो कही चैत्र मास में कृष्ण पक्ष की सप्तमी अथवा अष्टमी को मनाया जाता है। शीतला माता अपने साधकों के तन-मन को शीतल कर देती है तथा समस्त... आगे पढ़े

शीतला सप्तमी : शीतलता लेकर आता है, भीषण रोगों से बचाता है यह पवित्र पर्व

Updated on 26 March, 2019, 6:00
हिन्दू पंचांग के अनुसार, चैत्र महीने के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को बसोड़ा पूजन किया जाता है। जिसमे शीतला माता की पूजा की जाती है। बसोडा को शीतला अष्टमी के नाम से भी जाना जाता है। सामान्यतौर पर यह होली के आठवें दिन मनाया जाता है। परन्तु बहुत से... आगे पढ़े

रंगपंचमी पर रंगों में नहाने से पहले जान लीजिए कौन सा रंग आपकी किस्मत बदल सकता है

Updated on 25 March, 2019, 6:30
मेष राशि: लाल और पीला इस राशि के लिए सर्वाधिक शुभ रंग है। वृष राशि: काला तथा नीला रंग वृष राशि वालों के लिए सबसे अधिक अनुकूल है। मिथुन राशि: हरा और नीला रंग मिथुन राशि के लोगों इस रंगपंचमी पर सबसे उपयुक्‍त है। कर्क राशि: सफेद या चमकीले रंग के साथ कर्क... आगे पढ़े

रंगपंचमी होता है होली का अंतिम दिन, देवताओं के साथ जरूर खेलें रंग

Updated on 25 March, 2019, 6:15
2019 में रंग पंचमी 25 मार्च सोमवार को मनाई जाएगी। यह उत्सव होली के पांच दिन बाद आता है और इस पर्व का अंतिम दिन भी माना जाता है। चैत्र मास में कृष्ण पक्ष की पंचमी तिथि को रंग पंचमी का पर्व मनाया जाता है। इसी के चलते इसे रंग पंचमी... आगे पढ़े

25 मार्च को रंगपंचमी पर फाग यात्रा में शामिल होंगे हुरियारे, खूब उड़ेगा गुलाल

Updated on 24 March, 2019, 6:30
पौराणिक मान्यताओं के अनुसार रंगपंचमी (Ranga Panchami) मनाने के पीछे आध्यात्मिक मान्यता है। ऐसा माना जाता है कि इस दिन खेले जाने वाले रंग और गुलाल हमारे सात्विक गुणों को बढ़ाते हैं और अवगुणों का नाश करते हैं। रंगपंचमी त्योहार की यह भी मान्यता है कि इस दिन जब रंगों को... आगे पढ़े

इस रंगपंचमी पर किस राशि के लिए कौन से रंगों का प्रयोग करना चाहिए (जानें अपनी राशिनुसार)

Updated on 24 March, 2019, 6:15
होली के ठीक पांच दिन बाद रंगपंचमी मनाई जाती है। रंगपंचमी होली के समापन का पर्व होता है जो चैत्र कृष्ण पंचमी को मनाया जाता है। इस वर्ष सोमवार, 25 मार्च 2019 को रंगपंचमी का पावन पर्व मनाया जा रहा है। रंगपंचमी यानी रंगों की मस्ती में डूबने का अवसर, जीवन... आगे पढ़े

आप नहीं जानते होंगे कि हम क्यों मनाते हैं रंगपंचमी, पढ़ें पौराणिक रोचक जानकारी

Updated on 24 March, 2019, 6:00
पौराणिक ग्रंथों के अनुसार होली ब्रह्मांड का एक तेजोत्सव है। तेजोत्सव से, अर्थात विविध तेजोत्सव तरंगों के भ्रमण से ब्रह्मांड में अनेक रंग आवश्यकता के अनुसार साकार होते हैं तथा संबंधित घटक के कार्य के लिए पूरक व पोषक वातावरण की निर्मित करते हैं। शास्त्रोंं केे अनुसार त्रेतायुग के प्रारंभ में... आगे पढ़े

इस वर्ष 24 मार्च को बड़ी गणेश चतुर्थी है, जानिए कैसे करें पूजन और व्रत

Updated on 23 March, 2019, 6:45
श्री गणेश जी को सभी तिथियों में चतुर्थी की तिथि सर्वाधिक प्रिय है। गणेश संकष्ट व्रत हर माह की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी के दिन आता है। चतुर्थी की तिथि माह में दो बार आती है, एक शुक्ल पक्ष में दूसरा कृष्ण पक्ष में। शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को विनायकी... आगे पढ़े

चैत्र मास संकष्टी चतुर्थी 24 मार्च को, इन पूजन सामग्रियों के साथ करें विकट नामक गणेश को प्रसन्न

Updated on 23 March, 2019, 6:30
प्रत्येक मास के दोनों पक्षों की चतुर्थी तिथि को गणेश जी का पूजन किया जाता है। शुक्ल-पक्ष की चतुर्थी को विनायक चतुर्थी और कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को संकष्टी चतुर्थी कहलाती है। चैत्र मास की संकष्टी चतुर्थी 24 मार्च 2019 (रविवार) को है। यह व्रत करने से सभी प्रकार की बाधाएं... आगे पढ़े