Saturday, 20 April 2019, 10:06 PM

धर्म एवं ज्योतिष

चैत्र नवरात्रि विशेष : जानिए हर दिन का प्रसाद, किस दिन क्या चढ़ाएं?

Updated on 11 April, 2019, 6:45
* चैत्र नवरात्रि 2019 : मां दुर्गा को किस दिन चढ़ाएं कौन सा विशेष भोग जानिए नवरात्रि में हर दिन मां दुर्गा को विशेष भोग अर्पित किया जाता है। अगर आप प्रथम दिन से यह भोग देवी को नहीं चढ़ा सके हैं तो नवरात्रि के अंतिम दिन सभी का एक साथ... आगे पढ़े

इन मंत्रों के बिना अधूरी है नवरात्रि की पूजा, नौ दिन अवश्‍य पढ़ें ये बीज मंत्र

Updated on 11 April, 2019, 6:30
नवरात्रि के नौ दिनों तक देवी दुर्गा की पूजा-आराधना का विधान है। नवदुर्गा के इन बीज मंत्रों की प्रतिदिन की देवी के दिनों के अनुसार मंत्र जप करने से मनोरथ सिद्धि होती है। आइए जानें नौ देवियों के दैनिक पूजा के बीज मंत्र - देवी दुर्गा के सरल बीज मंत्र 1. शैलपुत्री-... आगे पढ़े

आपकी किस्मत बदल देंगे श्रीरामचरित मानस के ये 5 विलक्षण मंत्र, रामनवमी तक अवश्‍य पढ़ें

Updated on 11 April, 2019, 6:15
* नवरात्रि से रामनवमी तक करें इन 5 दुर्लभ मंत्रों का जाप, बदल देंगे आपकी किस्मत हम पाठकों की सुविधा, समयाभाव एवं कालगत दोषों को दृष्टिगत रखकर नवरात्रि में स्मरण जप के लिए कुछ सरल प्रयोग-मंत्र दे रहे हैं।  नवरात्रि से राम नवमी तक विश्वास एवं निष्ठा के साथ इन्हीं मंत्रों से... आगे पढ़े

 षष्ठी देवी: भक्तों को वरदान देने वाली कात्यायनी

Updated on 11 April, 2019, 6:00
चैत्र नवरात्र में माता दुर्गा के षष्ठी रूप माता कात्यायनी की पूजा की जाती है। धार्मिक शास्त्र अनुसार महर्षि कात्यायन की कठिन तपस्या से प्रसन्न होकर उनकी इच्छा के अनुसार ही उन्हें पुत्री के रूप मे देवी प्राप्त हुईं थी। महर्षि कात्यायन ने इनका पालन-पोषण किया इसीलये इस देवी को... आगे पढ़े

मां दुर्गा के 108 नाम, देते हैं हजार गुना सुख-संपत्ति और खुशियों का वरदान

Updated on 10 April, 2019, 6:45
देवी दुर्गा, भगवान शिव की पत्नी पार्वती जी का ही स्वरूप है। नवरात्रि में भक्त हर प्रकार की पूजा और विधान से मां दुर्गा को प्रसन्न करने के जतन करते हैं। लेकिन अगर आप व्यस्तताओं के चलते विधिवत आराधना ना कर सकें तो मात्र 108 नाम के जाप करें। इससे... आगे पढ़े

आपने नहीं पढ़ी होगी मां शेरावाली की यह पवित्र एवं पौराणिक कथा

Updated on 10 April, 2019, 6:30
'या देवी सर्वभूतेषु चेतनेत्यभिधीयते। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।'   कैलाश पर्वत के निवासी भगवान शिव की अर्धांगिनी मां सती पार्वती को ही शैलपुत्री‍, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कूष्मांडा, स्कंदमाता, कात्यायिनी, कालरात्रि, महागौरी, सिद्धिदात्री आदि नामों से जाना जाता है। इसके अलावा भी मां के अनेक नाम हैं जैसे दुर्गा, जगदंबा, अंबे, शेरांवाली आदि, लेकिन... आगे पढ़े

चैत्र नवरात्रि में इस मंत्र का 108 बार पाठ करने से मिलेगी मन के अनुरूप सुयोग्य पत्नी

Updated on 10 April, 2019, 6:15
आज के युग में सुलक्षणा, सुकन्या और सुशील पत्नी पाने की चाह किसे नहीं है। यदि कोई अविवाहित जातक ऐसी ही अर्धांगनी का स्वप्न देखता है तो उसे श्री दुर्गा जी का ध्यान करते हुए घी का दीपक जलाकर किसी एकांत स्थान में स्नान शुद्धि के उपरांत नित्य प्रातःकाल उपरोक्त... आगे पढ़े

माता के इस मंदिर में लगता है ढाई प्याला शराब का भोग, होते हैं चमत्कार

Updated on 9 April, 2019, 6:45
नवरात्र चल रहे हैं और हर घर में माता की पूजा और जयकारे लग रहे हैं। इस पावन पर्व पर भक्तजन मां के दर्शन के लिए मंदिर में जाते हैं और प्रसाद चढ़ाते हैं। हम आपको माता के एक ऐसे मंदिर के बारे में बताते हैं, जहां प्रसाद के रूप... आगे पढ़े

घर के ईशान कोण में हैं ये दोष तो नहीं मिलता पूजा का फल, हो सकता है भारी नुकसान

Updated on 9 April, 2019, 6:30
सुख-समृद्धि की चाह हम सबको अपने जीवन में होती है। जिसके लिए हर कोई जीवन में निरंतर प्रयास और मेहनत करता है लेकिन कभी-कभी ऐसा होता है कि हमारे अथक प्रयासों और कड़े परिश्रम के बाद भी हम असफल रहते हैं। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार आपकी प्रगति में आने वाली बाधाओं... आगे पढ़े

चैत्र नवरात्रि में श्रीराम के ये 10 सरलतम मंत्र बदल देंगे आपकी किस्मत की तस्वीर

Updated on 9 April, 2019, 6:15
राम नाम की शक्ति अपरिमित है। उनके नाम से लिखे पत्‍थर तैर गए। उनके द्वारा चलाया गया अमोघ बाण रामबाण अचूक कहलाया तो उनके मंत्र की शक्ति का तो कहना क्या? नवरात्रि में रामचरित मानस, वाल्मीकि रामायण, सुंदरकांड आदि के अनुष्ठान की परंपरा रही है। मंत्रों का जाप भी किया जाता... आगे पढ़े

नवरात्रि पर्व का चौथा दिवस 

Updated on 9 April, 2019, 6:00
कूष्माण्डेति चतुर्थकम् - सुरासम्पूर्णकलशं रूधिराप्लुतमेव च। दधाना हस्तपद्माभ्यां कूष्माण्डा शुभदास्तु मे।। कहा जाता है कि बह्मांड की उत्पत्ति कुष्मांडा देवी द्वारा की गयी है। अष्टभुजी मॉ कुष्मांडा नवरात्रि के चौथे दिन पूजी जाती है। इनकी पूजा से मनुष्य यश कीर्ति पाकर दीर्घायु होता है और इस लोक के सुख भोगकर मोक्ष को प्राप्त... आगे पढ़े

चैत्र नवरात्र‍ि में अगर पढ़ लिए दुर्गा के 32 शुभ नाम, तो मिट जाएगा हर संकट

Updated on 8 April, 2019, 6:30
दुर्गा सप्तशती में बताए गए वर्णन के अनुसार - महिषासुर के वध से प्रसन्न और निर्भय हो गए त्रिदेवों सहित देवताओं ने प्रसन्न भगवती से ऐसे किसी अमोघ उपाय की याचना की, जो सरल हो और कठिन से कठिन विपत्ति से छुड़ाने वाला हो। 'हे देवी! यदि वह उपाय गोपनीय हो तब... आगे पढ़े

चन्द्रघंटा देवी का स्वरूप तपे हुए स्वर्ण के समान कांतिमय 

Updated on 8 April, 2019, 6:00
पिण्डजप्रवरारूढ़ा चण्डकोपास्त्रकै र्युता। प्रसादं तनुते मह्यं चन्द्रघण्टेति विश्रुता।। यह देवी चन्द्रघंटा का ध्यान मंत्र है। दुर्गा पूजा के तीसरे दिन आदिशक्ति दुर्गा के तीसरे रूप की पूजा होती है। मां का तीसरा रूप चन्द्रघंटा का है। देवी चन्द्रघण्टा भक्त को सभी प्रकार की बाधाओं एवं संकटों से उबारने वाली हैं।  चन्द्रघंटा देवी... आगे पढ़े

चैत्र नवरात्रि 2019 : मां दुर्गा की तीसरी शक्ति चंद्रघंटा की पावन कथा

Updated on 8 April, 2019, 6:00
पिण्डजप्रवरारूढ़ा चण्डकोपास्त्रकेर्युता। प्रसादं तनुते मह्यं चंद्रघण्टेति विश्रुता॥   मां दुर्गा की तीसरी शक्ति हैं चंद्रघंटा। नवरात्रि में तीसरे दिन इसी देवी की पूजा-आराधना की जाती है। देवी का यह स्वरूप परम शांतिदायक और कल्याणकारी है। इसीलिए कहा जाता है कि हमें निरंतर उनके पवित्र विग्रह को ध्यान में रखकर साधना करना चाहिए।   उनका ध्यान... आगे पढ़े

चैत्र नवरात्रि 2019 : मां दुर्गा की तीसरी शक्ति चंद्रघंटा की पावन कथा

Updated on 8 April, 2019, 6:00
पिण्डजप्रवरारूढ़ा चण्डकोपास्त्रकेर्युता। प्रसादं तनुते मह्यं चंद्रघण्टेति विश्रुता॥   मां दुर्गा की तीसरी शक्ति हैं चंद्रघंटा। नवरात्रि में तीसरे दिन इसी देवी की पूजा-आराधना की जाती है। देवी का यह स्वरूप परम शांतिदायक और कल्याणकारी है। इसीलिए कहा जाता है कि हमें निरंतर उनके पवित्र विग्रह को ध्यान में रखकर साधना करना चाहिए।   उनका ध्यान... आगे पढ़े

नवरात्रि की 5 महत्वपूर्ण बातें, भाग्य बदलकर रख देंगी

Updated on 7 April, 2019, 6:45
नवरात्र शब्द से 'नव अहोरात्र' अर्थात विशेष रात्रियों का बोध होता है। इन रात्रियों में प्रकृति के बहुत सारे अवरोध खत्म हो जाते हैं। दिन की अपेक्षा यदि रात्रि में आवाज दी जाए तो वह बहुत दूर तक जाती है। इसीलिए इन रात्रियों में सिद्धि और साधना की जाती है।... आगे पढ़े

चैत्र नवरात्रि में इन 12 सरल उपायों से करें देवी नवदुर्गा को प्रसन्न

Updated on 7 April, 2019, 6:30
चैत्र नवरात्रि में मां दुर्गा की पूजा विशेष फलदायी है। नवरात्रि ही ऐसा पवित्र पर्व है जिसमें महाकाली, महालक्ष्मी और मां सरस्वती की साधना कर मनचाही सिद्धियां-उपलब्धियां हासिल की जा सकती है। मां दुर्गा की कृपा प्राप्ति के लिए कुछ सरल उपाय नीचे दिए जा रहे हैं। 1- अपने घर के... आगे पढ़े

देवी ब्रह्मचारिणी का स्वरूप पूर्ण ज्योतिर्मय

Updated on 7 April, 2019, 6:00
या देवी सर्वभूतेषु ब्रह्मचारिणी रूपेण संस्थिता, नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम आदि शक्ति माता महामाया भगवती दुर्गा का दूसरा स्वरूप है ब्रह्मचारिणी का। देवी ब्रह्मचारिणी का स्वरूप उनके नामनुसार ही तपस्विनी जैसा है। माता के इस रूप एवं उनकी भक्ति के मार्ग पर जब हम आगे बढ़ रहे हैं तो आइये... आगे पढ़े

मां भवानी को करना है प्रसन्‍न तो नवरात्र में भूले से भी न करें ये काम

Updated on 6 April, 2019, 6:45
यूं तो मां भवानी की पूजा हमेशा से ही नियमों के साथ की जाती है लेकिन नवरात्रि में इस बात का विशेष ख्‍याल रखा जाता है कि पूजा विधि-विधान से की जाए। यदि इन 9 दिनों में मां की पूजा में कोई भूल हो जाए तो उसे पूजा का फल... आगे पढ़े

गुड़ी पड़वा के दिन 136 देवता देते हैं शुभ आशीष, जानिए उनके मंत्र

Updated on 6 April, 2019, 6:15
गुड़ी पड़वा के दिन 136 देवों को प्रसन्न किया जा सकता है। शास्त्रों में उनके मंत्र दिए गए हैं। पढ़ें विस्तार से... इस दिन प्रातः नित्यकर्मों से निवृत्त होकर स्नानादि कर स्वच्छ या नए (सामर्थ्यानुसार) वस्त्राभूषण धारण करें। इसके बाद हाथ में गंध, पुष्प, अक्षत तथा जल लेकर संकल्प करें। स्वच्छ एवं गंगा... आगे पढ़े

चैत्र नवरात्र 2019: जानें पूजा में आरती का क्‍या है महत्‍व

Updated on 6 April, 2019, 6:03
चैत्र नवरात्र 2019 का आरंभ इस बार आगामी शनिवार, 6 अप्रैल से हो रहा है। मां दुर्गा अपने 9 स्‍परूपों में पधारकर भक्‍तों से सभी दुख दूर करेंगी। नवरात्र का आरंभ चैत्र प्रतिपदा के दिन घट स्‍थापना के साथ किया जाता है और फिर 9 दिन तक माता के विभिन्‍न... आगे पढ़े

भारतीय नववर्ष अर्थात् नववर्ष प्रतिपदा

Updated on 6 April, 2019, 6:00
06अप्रैल नववर्ष प्रतिपदा पर विशेष भारतीय नववर्ष का पहला दिन यानि सृष्टि का आरम्भ दिवस, कलियुग का प्रारम्भ, विक्रम् संवत् जैसे प्राचीन संवत का प्रथम दिन, श्रीराम एवं युधिष्ठिर का राज्याभिषेक दिवस, मां दुर्गा की साधना चैत्र नवरात्रि का प्रथम दिवस, आर्य समाज का स्थापना दिवस, संत झूलेलाल जयंती, प्रखर देशभक्त... आगे पढ़े

सिर्फ 3 शुक्रवार पढ़ें और मालामाल हो जाएं, जानिए धन प्राप्ति का मंत्र और विधि...

Updated on 5 April, 2019, 6:45
धन प्राप्ति की कामना किसे नहीं होती, वर्तमान में हर व्यक्ति अतिरिक्त धन प्राप्ति की कामना करता है। लेकिन कई बार अथक प्रयासों के बावजूद धन की प्राप्ति नहीं हो पाती। जब धन के सभ रास्ते बंद हो जाएं और दरिद्रता आपको घेरने लगे, तो उपाय करना आवश्यक है। इसलिए... आगे पढ़े

5 अप्रैल को भूतड़ी अमावस्या पर आजमाएं ये 10 सरल टोटके, होगी मनचाही मुराद पूरी

Updated on 5 April, 2019, 6:30
शास्त्रों के अनुसार चैत्र कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि को भूतड़ी अमावस्या के नाम से जाना जाता है। इस वर्ष 5 अप्रैल 2019, शुक्रवार को भूतड़ी अमावस्या मनाई जा रही है। ज्योतिष शास्त्र में अमावस्या को विशेष तिथि माना गया है। इस दिन व्रत रखने से पितरों को मोक्ष की... आगे पढ़े

एक ही दिन में क्यों अष्टमी एवं नवमी आती है और कैसे दो-दो दिन मनाते हैं एक ही त्योहार?

Updated on 5 April, 2019, 6:15
सचमुच ही बहुत से लोग यह समझ नहीं पाते हैं कि आज अष्टमी है या नवमी। एक बार ऐसा हुआ था कि आज भी होली का त्योहार है और कल भी। कुछ पंडित कहते हैं कि आज है और कुछ कहते हैं कि कल है। आखिर सच क्या है? आओ... आगे पढ़े

जानिए चैत्र अमावस्या के मुहूर्त, महत्व एवं उपाय

Updated on 5 April, 2019, 6:00
धार्मिक शास्त्रों के अनुसार चैत्र महीने में आने वाली कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि को 'चैत्र अमावस्या' के नाम से जाना जाता है। इस दिन व्रत रखने से पितरों को मोक्ष की प्राप्ति होती है। धार्मिक एवं ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार हर माह के कृष्ण पक्ष में आने वाली अमावस्या तिथि... आगे पढ़े

नव-संवत्सर के विषय में यह जानकारी नहीं होगी आपको...

Updated on 4 April, 2019, 6:45
जैसे ईसा (अंग्रेजी), चीन या अरब का कैलेंडर है उसी तरह राजा विक्रमादित्य के काल में भारतीय वैज्ञानिकों ने इन सबसे पहले ही भारतीय कैलेंडर विकसित किया था। इस कैलेंडर की शुरुआत हिंदू पंचांग के अनुसार चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से मानी जाती है। मार्च माह से ही... आगे पढ़े

कैसे हुई कुंती की मृत्यु, जानिए 12 रहस्य चौंकाने वाले

Updated on 4 April, 2019, 6:30
कुंती एक अद्भुत महिला थीं। पति की मृत्यु के बाद कैसे उन्होंने अपने पुत्रों को हस्तिनापुर में दालिख करवाकर गुरु द्रोणाचार्य से शिक्षा दिलवाई और अंत में उन्हें राज्य का अधिकार दिलवाने के लिए प्रेरित किया यह सब जानना अद्भुत है। एक स्त्री की संघर्ष कहानी में द्रौपदी का नाम... आगे पढ़े

हवा, पवन, वायु, बयार...जानिए इसके 7 आश्चर्यजनक प्रकार

Updated on 4 April, 2019, 6:15
अभी तक विज्ञान जिसे जान रहा है और जिसे नहीं जानता है वेदों और पुराणों में उसके बारे में विस्तार से मिलता है। हिन्दू धर्म में प्रकृति के हर रहस्य का खुलासा किया गया है। प्रकृति के इन प्रत्येक तत्वों का एक देवता नियुक्त किया गया है। तत्वों के कार्य... आगे पढ़े

अमावस्या और पूर्णिमा के यह बड़े राज, नहीं जानते हैं आप

Updated on 4 April, 2019, 6:00
हिन्दू धर्म में पूर्णिमा, अमावस्या और ग्रहण के रहस्य को उजागर किया गया है। इसके अलावा वर्ष में ऐसे कई महत्वपूर्ण दिन और रात हैं जिनका धरती और मानव मन पर गहरा प्रभाव पड़ता है। उनमें से ही माह में पड़ने वाले 2 दिन सबसे महत्वपूर्ण हैं- पूर्णिमा और अमावस्या।... आगे पढ़े